1191 crore dues on 700 allottees of hsvp plot will be resumed for non deposit

एचएसवीपी के 700 आवंटियों पर ‌‌1191 करोड़ बकाया, जमा न करने पर प्लॉट होगा रिज्यूम

ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति सोनीपत

हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण ने प्लॉट अलॉटमेंट के बाद इंस्टॉलमेंट, इनहांसमेंट और एक्सटेंशन फीस आदि बकाया नहीं देने वालों पर सख्ती शुरू की है। ऐसे डिफॉल्टरों की फेहरिस्त तैयार की गई है। डिफाॅल्टर हो चुके 700 से अधिक प्लॉट धारकों को अब नोटिस जारी किए हैं। नोट इस प्रक्रिया के बाद भी राशि नहीं जमा करवाने पर प्लॉट को रिज्यूम कर उसकी बोली करवाकर दोबारा से बेच दिया जाएगा।

एचएसवीपी की संपत्ति पर कुंडली मार कर बैठने वालों की अब खैर नहीं है। संपदा विभाग ने अलग-अलग सेक्टर में ऐसे प्लाॅट आवंटियों को हुडा एक्ट के तहत नोटिस जारी करने शुरू किए हैं। इसमें चेतावनी दी गई है कि यदि उनकी ओर से समय पर भुगतान न किया गया तो उनका आवंटन रद्द हो सकता है। संपदा विभाग के अनुसार इन बकायेदारों में एचएसवीपी के किस्त का पैसा होने के साथ ही इनहांसमेंट का भी पैसा है। प्लाॅट आवंटियों की ओर से पैसा न जमा करने के कारण उस पर 15 प्रतिशत का ब्याज दर भी लगाया गया है।

8 सेक्टर में 4274 बकायादार पर 1191 करोड़ बकाया : सोनीपत के बकायादार एक सेक्टर में नहीं बल्कि 8 रिहायशी सेक्टरों में हैं। इनकी कुल संख्या 4274 है। इन प्लॉट अलॉटियों में एचएसवीपी कि 1191 करोड़ की धनराशि बकाया है। सेक्टर-7, 14,15, 12,13, 8, 23 में व सेक्टर -7 गोहाना में बकायदार हैं। 3402 प्लॉट अलॉटियों पर एक्सटेंशन फीस के 759 करोड़ बकाया हैं। जबकि 872 प्लॉट अलॉटियों पर इनहांसमेंट के 432 करोड़ रुपए बकाया हैं।

4 नोटिस के बाद आवंटन रद्द करने की कार्रवाई
प्लॉटों के अलॉटमेंट के बाद एचएसवीपी की ओर से किस्त निर्धारित की जाती है। कुछ लोग ऐसे हैं जिन्होंने अपनी किस्त तक नहीं भरी। इसके अतिरिक्त इनहांसमेंट एवं एक्सटेंशन फीस भी लोगों ने विभाग में जमा नहीं कराई। हुडा की ओर से एक्ट 17-1, 17-2 एवं 17-3 के नोटिस भेजे जा चुके हैं। पहले नोटिस में उपभोक्ताओं को 30 दिन का समय दिया जाता है। दूसरे नोटिस में 15 दिन का समय देने के साथ 10 फीसदी जुर्माने भरना पड़ता है। इसके बाद चौथा नोटिस प्लॉट जब्त करने के लिए भेजा जाता है। इन डिफाॅल्टरों में इंस्टीट्यूशन, व्यवसायिक, आवासीय और औद्योगिक संस्थानों के अलॉटी शामिल है।

सेक्टर के खाली प्लॉट ने गंदगी की शिकायत पर अधिकारियों को लेकर पहुंचे विधायक व मेयर

शहर के सेक्टर-15 में खाली पड़े प्लॉटों में गंदगी फैलने से परेशान लोगों की शिकायतों के बाद शुक्रवार को विधायक सुरेन्द्र पंवार के साथ मेयर निखिल मदान अधिकारियों को साथ लेकर मौके पर पहुंचे। क्षेत्र में खाली पड़े रिहायशी प्लॉट एवं पार्क इत्यादि के लिए चिह्नित जगहों पर कचरा डाले जाने व इंदिरा आवास योजना के निवासियों द्वारा सूअर पाले जाने की शिकायत मिली थी। हुडा ईओ, सम्बन्धित तहसीलदार,पटवारी को निर्देश दिए है कि खाली पड़े रिहायशी प्लॉट के मालिकों को बोलकर उनकी चारदीवारी करवाई जाए व खाली जमीन पर पार्क बनवाया जाएं। सूअर पालकों को दस दिन के अंदर सेक्टर की जगह खाली करने के निर्देश दिए गए है।

गलत एड्रेस देने वालों पर भी कार्रवाई : ईओ

सेक्टरों में बकायादार प्लॉट धारकों को नोटिस जारी किए जा रहे हैं। कई बकायादारों ने नोटिस से बचने के लिए गलत एड्रेस दिए हैं, लेकिन वह इससे बच नहीं पाएंगे। नियमानुसार उन पर भी कार्रवाई होगी। नोटिस प्रक्रिया के बाद भी राशि नहीं जमा करवाने पर प्लॉट रिज्यूम कर लिए जाएंगे। सेक्टरों में खाली प्लॉटों में फैल रही गंदगी पर भी संज्ञान लेते हुए प्लॉट धारकों को नोटिस जारी कर उचित व्यवस्था करने के निर्देश दिए जाएंगे। -दीपक घनघस, इस्टेट ऑफिस, एचएसवीपी सोनीपत।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *