25 children were being brought from bihar in 4 buses for child labor one bus each caught in murthal panipat and delhi

बचपन से खिलवाड़:बाल मजदूरी के लिए 4 बसों में बिहार से लाए जा रहे थे 25 बच्चे, मुरथल, पानीपत और दिल्ली में पकड़ी एक-एक बस

दिल्ली दिल्ली एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ विशेष सोनीपत

उद्योगों व अन्य जगह मजदूरी के लिए 25 से अधिक बच्चों को चार बसों में पंजाब की तरफ ले जाया जा रहा था। बिहार से चली इन बसों की सूचना स्टेट एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट को लगी तो पुलिस के साथ चेकिंग अभियान चलाया गया। इनमें एक बस दिल्ली में एक पानीपत व करनाल के बीच व एक मुरथल के पास पकड़ी गई।

बताया गया कि बाल मजदूरी करवाने के लिए एक तरह का गिरोह बिचौलिए का काम करता है। जो बच्चों को अकेले या उनके परिवार सदस्यों के साथ ले जा ले जा रहे थे। मुरथल के पास पकड़ी गई बस में 10 से 12 बच्चे मिले हैं और कुछ बच्चों के साथ उनके परिजन भी हैं। देर रात तक पुलिस टीम इन बच्चों के रिकॉर्ड की जांच कर रही थी।

बचपन बचाओ आंदोलन की तरफ से सूचना दी गई थी सोनवर्षा बिहार से 4 बसों में भरकर 25 से 30 बच्चों को पंजाब की तरफ ले जाया जा रहा है। बच्चों की उम्र 12 से 16 साल के बीच है। इनके साथ 10 से 12 चाइल्ड लेबर यानि बाल मजदूरी के लिए बिचौलियों का काम करने वाले गिरोह के सदस्य भी हैं।

बस का नाम ट्रैवल पॉइंट, वीआईपी ट्रेवल्स, माता लक्ष्मी ट्रेवल्स, अशिफा ट्रेवल बताए गए। रात साढ़े 10 बजे के करीब मुरथल में ढाबों के पास एक बस को मुरथल पुलिस और स्टेट एंटी ह्युमन ट्रैफिकिंग यूनिट ने चेकिंग अभियान चलाकर पकड़ लिया। यूनिट के सब इंस्पेक्टर संदीप ने बताया कि दिन भर सूचना के आधार पर इनकी तलाश चल रही थी।

मोटर के पास पकड़ी गई बस में 10 से 12 बच्चे हैं। उसके परिजन भी साथ हैं। इन सबके कागजात जांच करके तहकीकात की जा रही है। इसके बाद कार्रवाई होगी। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी के पूर्व चेयरमैन राज सिंह सांगवान इस कार्रवाई में शामिल रहे। उन्होंने बताया कि बिहार से चली 4 बसों में से 3 को ट्रैक करके पकड़ा जा चुका है। इनमें एक बस मुरथल, एक पानीपत और करनाल के बीच और एक दिल्ली में पकड़ी गई है। चौथी एक और बस की तलाश देर रात तक जारी थी।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *