Karwa Chauth 2023

करवा चौथ पर इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, खुशियों से भर जाएगी आपकी मैरिड लाइफ

धर्म ब्रेकिंग न्यूज़ रिलेशनशिप्स लाइफस्टाइल

Karwa Chauth 2023 chand kab niklega: कार्तिक मास के कृष्‍ण पक्ष की चतुर्थी को करवा चौथ व्रत रखा जाता है. हिंदू धर्म में सुहागिन महिलाओं के लिए करवा चौथ बेहद महत्‍वपूर्ण पर्व है. करवा चौथ व्रत में सुहागिनें पूरा दिन निर्जला रहती हैं और शाम को चांद देखकर व्रत खोलती हैं. इस साल करवा चौथ व्रत 1 नवंबर 2023, बुधवार को रखा जाएगा. करवा चौथ व्रत के लिए धर्म-शास्‍त्रों में कुछ नियम बताए गए हैं, जिनका पालन करना जरूरी है. तभी करवा चौथ व्रत का पूरा फल मिलता है. इसके लिए यह भी जरूरी है कि करवा चौथ व्रत की पूजा शुभ मुहूर्त में की जाए. 

करवा चौथ व्रत पूजा मुहूर्त 

पंचांग के अनुसार कार्तिक माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि यानी कि करवा चौथ की तिथि 31 अक्टूबर मंगलवार की रात 9 बजकर 30 मिनट से शुरू होकर 1 नवंबर की रात 9 बजकर 19 मिनट पर समाप्त होगी. उदयातिथि के अनुसार, करवा चौथ व्रत 1 नवंबर 2023, बुधवार को रखा जाएगा. वहीं करवा चौथ का चांद रात को 8 बजकर 26 मिनट पर होगा. करवा चौथ के दिन चंद्रोदय के बाद ही चंद्रमा को अर्घ्‍य देकर पूजन करके खोला जाता है. वहीं इससे पहले शाम को करवा चौथ की पूजा की जाती है. इस साल करवा चौथ पर पूजा का शुभ मुहूर्त शाम 5 बजकर 44 मिनट से 7 बजकर 02 मिनट तक रहेगा.

दांपत्‍य जीवन में आएंगी खुशियां

सुहागिन महिलाओं के लिए करवा चौथ व्रत काफी खास होता है. मान्यताओं के अनुसार देवी पार्वती ने शिव जी के लिए और द्रौपदी ने पांडवों के लिए यह व्रत रखा था. करवा चौथ का व्रत विवाह के 16 या 17 सालों तक करना अनिवार्य माना गया है. माना जाता है कि जो स्त्री करवा चौथ व्रत करती है, उसके पति की उम्र लंबी होती है. साथ ही उसके दांपत्‍य जीवन में हमेशा खुशहाली रहती है. पति-पत्‍नी का रिश्‍ता मजबूत रहता है. वहीं कुंवारी लड़कियां अच्‍छा पति पाने के लिए करवा चौथ व्रत करती हैं. 

(Disclaimer: यहां दी गई जानकारी सामान्‍य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है. SONIPAT NEWS इसकी पुष्टि नहीं करता है.)

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *