msp-4600-but-the-price-is-getting-5000-rupees-per-quintal-in-the-open-market

सरसों का ऊंचा भाव:एमएसपी 4600, पर खुले बाजार में 5000 रुपए प्रति क्विंटल मिल रहा दाम

ब्रेकिंग न्यूज़ राजनीति सोनीपत

यह फसल सरसों किसानों के लिए फायदेमंद साबित हो रही है। किसानों को खुले बाजार में एमएसपी से ज्यादा रेट मिलने से किसान डायरेक्ट आढ़तियों को फसल बेच रहे हैं। सरकार द्वारा सरसों का रेट 4600 रुपए निर्धारित किया गया है। बाजार में 5000 रुपए ज्यादा रेट में बिक रही है।

शनिवार को मंडी में 5020 रुपए के रेट से सरसों की खरीद की गई थी। रोहतक रोड नई अनाज मंडी में अब तक करीब साढ़े पांच सौ क्विंटल सरसो की बिक्री हो चुकी है। अधिक दाम मिलने चलते किसान सरकारी एजेंसी के बजाया डायरेक्ट अाढ़ती को बेंच रहे हैं, जो सरकारी रेट से 400 तक रुपए ज्यादा दे रहे हैं। ऐसे में आढ़तियों से निजी एजेंसियों ने संपर्क किया है। जो कि फसलों को खरीदकर उन तक पहुंचा देते हैं।

मंडी की अव्यवस्था बनी परेशानी
अनाज मंडी में अव्यवस्थाओं के कारण किसानों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। मंडी में साफ-सफाई का अभाव है। जमींदरा शेड में ट्रांसपोर्टर्स का कब्जा है। शेड का अधिकतर हिस्सा गंदगी से अटा पड़ा है। अंदर दूसरे लोगों का कब्जा होने की वजह से किसानों को बाहर ही फसल डालना पड़ता है। ऐसे में बरसात होने पर किसानों की फसल भीग जाती है।

पैदावार कम होने से किसान निराश
ककरोई निवासी ने मुकेश ने कहा कि दो एकड़ में सरसो बोई थी, जिसमें 15 क्विंटल सरसों निकली है। रेट तो ठीक मिला लेकिन पैदावार कम होने से लाभ कम हो गया।सरकार को न्यूनतम समर्थन मूल्य में वृद्धि करना चाहिए।

सरकारी से अधिक प्राइवेट का भाव है : जितेंद्र कुमार
सरकार द्वारा घोषित मूल्य से अधिक खुले बाजार में किसानों काे सरसो का भाव मिल रहा है। जिससे किसान सरकारी एजेंसी को नहीं बेंच रहे हैं। आढ़तियों द्वारा खरीदी रही है। कमेटी द्वारा सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है।-जितेंद्र कुमार, सेक्रेटरी मार्केट कमेटी सोनीपत।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *