murthal dhaba sonipat

पढ़ें- मुरथल के ढाबों पर अय्याशी की Inside Story, दिल्ली से ठेके पर लाई जाती हैं लड़कियां

दिल्ली एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ मुरथल विशेष सोनीपत

ऐसा माना जाता है कि यहां पर हाईवे किनारे के होटलों और ढाबों पर देह व्यापार और जुआ खुलेआम चलता है। पुलिस कार्रवाई होने पर 10-20 दिन के लिए धंधा मंदा पड़ जाता है, उसके बाद फिर से शुरू हो जाता है। पिछले दिनों कुंडली थानाक्षेत्र में देह व्यापार का बड़ा मामला पकड़ा गया था। वह कार्रवाई एसपी के आदेश पर एएसपी निकिता खट्टर के नेतृत्व में की गई थी। अबकी बार मुरथल में ढाबों पर देह व्यापार का भंडाफोड़ हुआ है। यह कार्रवाई मुख्यमंत्री के उड़नदस्ते की टीम ने की है। जिस प्रकार पुलिस की नाक के नीचे कई ढाबों पर देहव्यापार हो रहा था, उससे अफसर नाराज हैं। सीएम फ्लाइंग की जांच में सामने आया कि होटलों में धंधा शिफ्टों में चल रहा था। इसके लिए ढाबा संचालक लड़कियों को दिल्ली से ठेके पर लाते हैं। एसपी ने क्राइम मीटिंग में मुरथल थाने के एसएचओ को कड़ी फटकार लगाई है।

सीएम फ्लाइंग को सूचना मिली थी कि मुरथल के ढाबों पर देह व्यापार और जुए का धंधा धड़ल्ले से चल रहा है। दो-चार नहीं, दर्जनों ढाबों पर दिल्ली से लड़कियां लाई जाती हैं। इनको ठेके पर एक सप्ताह के लिए बुक करके लाया जाता है। इसके लिए लड़कियों को एकमुश्त धनराशि दी जाती है। पुलिस सूत्रों के अनुसार लाकडाउन के बाद ढाबे खुलने के साथ ही धंधा शुरू हाे गया था। इस मामले की जानकारी लोकल पुलिस को भी थी। सीएम फ्लाइंग की टीम के साथ कम पुलिस बल होने के चलते केवल चार ढाबों पर ही कार्रवाई हो सकी। इससे अन्य ढाबों पर भगदड़ मच गई और प्रभावी कार्रवाई नहीं हो सकी।

मुरथल थाने से एक किलोमीटर की दूरी पर जीटी रोड पर जिस प्रकार देह व्यापार होता मिला है, वह पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान है। सीएम फ्लाइंग की जांच में सामने आया इन ढाबों पर दोपहर से रात में दो-तीन बजे तक धड़ल्ले से धंधा होता है। यहां पर लड़कियां शिफ्ट में काम करती हैं। तीन होटलों से 12 लड़कियां टीम ने पकड़ी हैं, इनमें तीन विदेशी हैं। जांच टीम ग्राहक बनकर ढाबों पर पहुंची, बाकायदा लड़कियों की बुकिंग ढाबा संचालकों ने की।

सीएम फ्लाइंग का छापा पड़ने से स्थानीय पुलिस की किरकिरी हुई है। इसका प्रभाव बृहस्पतिवार को क्राइम मीटिंग में भी दिखाई दिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार एसपी ने मुरथल थाने के एसएचओ की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए जमकर फटकार लगाई।

सीएम फ्लाइंग के डीएसपी अजीत सिंह ने बताया कि वेश्यावृत्ति, नशा व जुआ खेले जाने की जानकारी लगातार मिल रही थीं। मुरथल के कई ढाबों पर अवैध धंधा होने की सप्रमाण शिकायत दी गई थी। यह धंधा काफी समय से चल रहा था। केवल चार ढाबों पर ही कार्रवाई की गई। पूरे हालात से स्थानीय पुलिस को अवगत करा दिया गया है।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *