kisan andolan why haryana police decided to book farmers leaders in nsa

किसान आंदोलन के नेताओं पर चलेगा NSA के तहत मुकदमा, जानिए क्यों?

कुंडली ब्रेकिंग न्यूज़ राष्ट्रीय सोनीपत

Farmers Leaders NSA Case: पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर पर पसरा सन्नाटा मानो किसी बड़े तूफान के आहट से पहले की शांति है क्योंकि आज प्रदर्शनकारियों ने केंद्र और हरियाणा सरकार के खिलाफ ब्लैक डे (Black Day) मनाने का ऐलान किया है. एमएसपी (MSP) को कानून के दायरे में लाने समेत कई मांगों के साथ प्रदर्शनकारी 13 फरवरी को ही दिल्ली कूच के लिए निकले थे लेकिन फिलहाल पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर सुरक्षाबलों का कड़ा पहरा लगा हुआ है. इस बीच, हरियाणा पुलिस कड़े एक्शन की तैयारी है. शंभू बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों के उपद्रव के खिलाफ हरियाणा पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी. पुलिस ने NSA के तहत केस दर्ज करने का फैसला किया. उपद्रवियों पर कानून व्यवस्था बिगाड़ने, भड़काऊ बयान देने और हिंसा भड़काने की कोशिश जैसे आरोप हैं. आइए जानते हैं कि ये कार्रवाई क्यों होने जा रही है.

हरियाणा पुलिस का कड़ा एक्शन

Farmers Leaders NSA Case: पंजाब-हरियाणा के बॉर्डर पर पसरा सन्नाटा मानो किसी बड़े तूफान के आहट से पहले की शांति है क्योंकि आज प्रदर्शनकारियों ने केंद्र और हरियाणा सरकार के खिलाफ ब्लैक डे (Black Day) मनाने का ऐलान किया है. एमएसपी (MSP) को कानून के दायरे में लाने समेत कई मांगों के साथ प्रदर्शनकारी 13 फरवरी को ही दिल्ली कूच के लिए निकले थे लेकिन फिलहाल पंजाब-हरियाणा बॉर्डर पर सुरक्षाबलों का कड़ा पहरा लगा हुआ है. इस बीच, हरियाणा पुलिस कड़े एक्शन की तैयारी है. शंभू बॉर्डर पर प्रदर्शनकारियों के उपद्रव के खिलाफ हरियाणा पुलिस सख्त कार्रवाई करेगी. पुलिस ने NSA के तहत केस दर्ज करने का फैसला किया. उपद्रवियों पर कानून व्यवस्था बिगाड़ने, भड़काऊ बयान देने और हिंसा भड़काने की कोशिश जैसे आरोप हैं. आइए जानते हैं कि ये कार्रवाई क्यों होने जा रही है.

बता दें कि हरियाणा पुलिस ने बीकेयू (शहीद भगत सिंह) के नेता अमरजीत मोहदी (Amarjeet Mohdi) के घर के बाहर नोटिस चिपकाया है और कहा है कि अगर उन्हें किसी आंदोलन में हिस्सा लेना है तो इसके लिए पुलिस की परमिशन लेनी होगी. अगर ऐसा नहीं किया तो उनकी प्रॉपर्टी और बैंक अकाउंट सीज कर दिए जाएंगे. कई अन्य किसान नेताओं को भी ऐसी चेतावनी दी गई है.

कानून के खिलवाड़ करने वालों की खैर नहीं

हरियाणा पुलिस का कहना है कि 13 फरवरी से किसान प्रदर्शनकारी शंभू बॉर्डर के बैरिकेड को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. पुलिस आकलन कर रही है कि कहीं सरकारी या प्राइवेट प्रॉपर्टी को नुकसान तो नहीं पहुंचाया गया है. अगर ऐसा हुआ है तो एक्शन लिया जाएगा.

क्यों लगाया जाएगा NSA?

जानकारी के मुताबिक, कई किसान नेता कानून-व्यवस्था बिगाड़ने और हिंसा भड़काने में अहम रोल अदा कर रहे हैं. वो अपने भड़काऊ बयान के जरिए प्रोपेगेंडा चला रहे हैं. उनके भड़काऊ बयान सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे हैं. अपने बयानों में कई किसान नेता अधिकारियों और सरकार के खिलाफ उकसाने वाले शब्दों का इस्तेमाल कर रहे हैं. क्रिमिनल एक्टिविटीज को रोकने और कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस प्रशासन ने आरोपियों के खिलाफ नेशनल सिक्योरिटी एक्ट 1980 (NSA) के सेक्शन 2 (3) के तहत कार्रवाई करने का फैसला किया है.

नई रणनीति को धार दे रहे किसान

गौरतलब है कि 10 दिनों से प्रदर्शनकारियों और सुरक्षाबलों के बीच चल रहे संघर्ष के बाद अब किसान नई रणनीति के साथ प्रदर्शन को धार दे रहे हैं. गुरुवार को चंडीगढ़ में किसान संयुक्त मोर्चा की बैठक बुलाई गई जिसमें कई बड़े फैसले लिए गए. आज किसान देशभर में ब्लैक डे मनाएंगे. 26 फरवरी को किसान ट्रैक्टर मार्च निकालेंगे. और 14 मार्च को किसानों ने दिल्ली के रामलीला मैदान में महापंचायत करने का फैसला किया है.

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *