ram mandir ayodhya

वो अभिजीत मुहूर्त… जब भव्‍य मंदिर में ठाठ-बाठ से विराजेंगे अयोध्‍या के राजा राम

धर्म ब्रेकिंग न्यूज़ सोनीपत

Pran Pratishtha Muhurat: देश के कोने-कोने में सिर्फ राम नाम की गूंज है. हर जुबान पर एक ही नारा है…. जय श्री राम. रघुराई की नगरी अयोध्‍या से लेकर पूरा देश ही राममय है. अयोध्‍या की भव्‍यता आज देखते ही बन रही है. जगह-जगह आयोजन हो रहे हैं. पूरी नगरी दुल्‍हन से सजी है. हजारों टन फूल, रंग-बिरंगी लाइट्स, रंगोली, विशालकाय मूर्तियां और ना जाने-जाने क्‍या-क्‍या… यह सब कुछ उन राजा राम के स्‍वागत में है, जो आज अपनी जन्‍मभूमि पर बने भव्‍य मंदिर में पूरे ठाठ-बाठ से विराजमान होने जा रहे हैं. 500 साल का इंतजार खत्‍म हो रहा है. रामलला की मूर्ति की प्राण प्रतिष्‍ठा के लिए काशी के विद्वानों ने 22 जनवरी 2024, सोमवार की दोपहर का अभिजीत मुहूर्त चुना है. जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी प्रभु राम की नई मूर्ति की प्राण प्रतिष्‍ठा करेंगे. 

84 सेकंड का दिव्‍य समय  

अयोध्या में भगवान रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा 84 सेकंड के बेहद शुभ मुहूर्त में होगी. ये मुहूर्त दोपहर 12 बजकर 29 मिनट 8 सेकंड से 12 बजकर 30 मिनट 32 सेकंड का होगा. इससे पहले साढ़े 11 बजे से गर्भगृह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूजा करेंगे. प्राण प्रतिष्‍ठा कुर्म द्वादशी तिथि में मृगशिरा नक्षत्र, इंद्र योग, मेष लग्न एवं वृश्चिक नवांश में होगा. 

सुबह से चल रहा पूजन-पाठ 

आज सुबह से ही प्राण प्रतिष्‍ठा के पहले के अनुष्‍ठान चल रहे हैं. सबसे पहले दैनिक मंडप में उन देवताओं का पूजन किया जा रहा है, जिनका प्राण प्रतिष्‍ठा के लिए आह्वान किया गया है. इसके बाद प्रभु रामलला को जगाया जाएगा. इस दौरान विशेष मंत्रों का उच्चारण किया जाएगा. फिर भगवान राम का दिव्‍य स्नान कराया जाएगा और उनका विधिवत श्रृंगार होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुख्‍य यजमान बनकर रामलला की नई मूर्ति की प्राण प्रतिष्‍ठा करेंगे. इसके बाद रामलला को दर्पण दिखाया जाएगा. कहा जाता है कि प्राण प्रतिष्‍ठा के बाद जब मूर्ति को दर्पण दिखाया जाता है तो उनकी आंखों के तेज से दर्पण चटक जाता है. 

ये अतिथि रहेंगे मौजूद 

इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, संघ प्रमुख मोहन भागवत, उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल, श्रीरामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत नृत्यगोपाल दास मौजूद रहेंगे. 

पीएम मोदी करेंगे सरयू में स्‍नान 

प्राण प्रतिष्‍ठा से पहले पीएम नरेंद्र मोदी सरयू नदी में स्नान करेंगे. फिर आचार्यों द्वारा दशाविधि स्नान और प्रायश्चित दान की प्रक्रिया पूरी करवाए जाने के बाद गर्भगृह में प्रवेश करेंगे. फिर प्राण प्रतिष्‍ठा की पूजा होगी. 84 सेकंड के अभिजीत मुहूर्त में प्राण प्रतिष्‍ठा की प्रमुख धार्मिक क्रियाएं होंगी. 

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *