sonipat-crime-news

चार करोड़ रुपए की ठगी की बात कबूली:मैक्स हाइट्स सोसायटी में 98 फर्जी रजिस्ट्री कराने के आरोपी दंपती काबू

ब्रेकिंग न्यूज़ सोनीपत

प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत कुंडली में मैक्स हाइट्स ड्रीम होम सोसायटी बिल्डर ने अपनी कंपनी के लिए छह लोगों पर फर्जी रजिस्ट्री कराने का आरोप लगाया था। आरोप था कि पति- पत्नी ने अपने सहयोगियों के साथ मिलकर फर्जी मोहर, फर्जी हस्ताक्षर कर 98 फ्लैटों की कई बार फर्जी रजिस्ट्री करा दी। कुंडली थाना पुलिस ने इस मामले में आरोपी रश्मि राठी व उसके पति शैलेष राठी को गिरफ्तार कर पांच दिन के रिमांड पर लिया है। पुलिस पूछताछ में दोनों ने अभी तक 4 करोड़ की ठगी की वारदात कबूल ली है। एसपी ने मामले की गहनता को देखते हुए एसआईटी गठित कर दी है।

कुंडली में रोडिया ड्राइव रोड पर मैक्स हाइट्स बिल्डर ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत ड्रीम होम प्रोजेक्ट के तहत 818 के करीब फ्लैट बेचे थे। 14 जनवरी को काफी लोगों ने कहा कि उनके साथ करोड़ों की ठगी हुई है। लाखों रुपए लेकर फ्लैट की रजिस्ट्री फर्जी तरीके से कई- कई लोगों के नाम करा दी गई। अब उनकी पहले वाली असली रजिस्ट्री को जाली बताया जा रहा है। डेढ़ सौ से अधिक लोगों के साथ फर्जीवाड़ा किया गया है।

इस मामले में अब कंपनी की तरफ से अपने की कर्मचारियों के खिलाफ कुंडली थाना में एफआईआर दर्ज कराई गई है। कंपनी के निदेशक अरूण राठी ने रश्मि राठी , उसके पति पति शैलेष राठी, रिश्तेदार ज्योत्सना सिंह, दीपक, वैभव फूड्स, मनोज इंडस्ट्रीज के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। कुंडली थाना के इंस्पेक्टर गुलशन ने बताया कि आरोपी रश्मि व उसके पति शैलेष को गिरफ्तार कर लिया है। उन्हें कोर्ट में पेश कर पांच दिन के रिमांड पर लिया गया है।

एसपी ने इस पूरे मामले की गहनता से जांच करने के लिए डीएसपी के नेतृत्व में एक एसआईटी गठित कर दी है। एसआईटी अब रेजीडेंट्स के साथ मिलकर इस फर्जीवाड़े की जांच करेगी। जिन लोगों ने फर्जी रजिस्ट्री कराई है और जिन्होंने रजिस्ट्री की है। एसआईटी सभी से जांच करेगी। इसके साथ ही आरोपियों के बैंक खाते भी सीज करने के आदेश दिए गए हैं। जिसे जिनके साथ ठगी हुई है, उसके पैसे को बैंक में ही रोका जा सके।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published.