ghotala

कामी की पंचायत फंड से 12.46 लाख के गबन में दो आरोपी गिरफ्तार

सोनीपत

सोनीपत। कामी गांव की पंचायत के फंड में करोड़ों के गबन व धोखाधड़ी के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आरोपी हुल्लाहेड़ी का संजय व अटायल का सुरेंद्र है। पुलिस आरोपियों को रिमांड पर लेकर पूछताछ करेगी। कामी गांव के ग्राम सचिव ने 13 मई को सदर थाना पुलिस को बताया था कि उच्च अधिकारियों से मिले पत्र के बाद सामने आया कि कामी गांव के सरंपच व तत्कालीन ग्राम सचिव ने पंचायत के खातों में जमा राशि के साथ गड़बड़ी की है। उसने पुलिस को शिकायत देकर सरपंच वेदपाल, तत्कालीन ग्राम सचिव सुरजीत ने मलिक इंटरप्राइजेज, राणा इंटरप्राइजेज के साथ ही ओबीसी व पीएनबी गन्नौर के मैनेजरों के खिलाफ केस दर्ज कराया था।

उन पर आरोप है कि फर्जी कागजात द्वारा 1246000 रुपये निकाले गए। ग्राम सचिव ने बताया था कि 13 अप्रैल को सरपंच कामी वेदपाल ने लिखित में दिया कि तत्कालीन ग्राम सचिव सुरजीत ने आरसीसी स्लैब बनाने के लिए 944000 का चैक मलिक इंटरप्राइजेज के नाम पर दिया था। जिसका न बिल मिला और न ही स्लैब बनाए गए। जब उन्होंने कंपनी से पूछा तो पता लगा कि ग्राम सचिव ने चैक दिया था, लेकिन यह नहीं बताया कि किस काम के लिए है और वह पैसे नकद लेकर चला गया था। ग्राम सचिव का कहना है कि सरपंच ने लिखित में यह भी बताया कि 605000 रुपये एफसीसी स्कीम के तहत निकाले, जो वापस जमा करा दिए गए थे। साथ ही 302000 रुपये पंचायत फंड से निकाले गए थे। 22 अप्रैल को सरपंच कामी को 1244000 लाख रुपये ब्याज समेत तीन दिन में जमा कराने का नोटिस दिया गया। हालांकि सरपंच ने समय अवधि के बाद 27 अप्रैल को इस राशि को पीएनबी गन्नौर में 944000 लाख रुपये व ओबीसी शाखा में 302000 रुपये जमा करा दिए थे। जिससे धोखाधड़ी सामने आ गई थी। जिस पर पुलिस ने अब मामले में सुरेंद्र व संजय को काबू किया है। पुलिस मामले में दोनों को रिमांड पर लेगी।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *