govt-school

Sonipat Government Girls School: निजी स्कूलों को टक्कर दे रहा राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल

मुरथल शिक्षा

शहर में मुरथल अड्डा स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय जिलेभर के निजी स्कूलों को हर तरह से टक्कर दे रहा है। स्कूल की छात्राएं न केवल अंग्रेजी माध्यम से शिक्षा प्राप्त कर रही हैं, बल्कि एक-दूसरे से अंग्रेजी में बातचीत भी करती हैं। यहां की बिल्डिंग व अन्य सुविधाएं देखकर नहीं लगता है कि यह राजकीय स्कूल है। इसमें दाखिलों के लिए छात्राओं की लंबी लाइनें लगती हैं। यही नहीं छात्राएं न केवल जिला स्तर से लेकर अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों की झंडी लगाई हुई हैं, बल्कि राष्ट्रपति से भी अवार्ड ले चुकी हैं।

शिक्षा विभाग के रिकार्ड अनुसार स्कूल की स्थापना वर्ष 1948 में हुई थी। स्कूल स्थापित होते ही यहां छात्राओं की पढ़ाई शुरू हो गई थी। 2008 तक स्कूल में छात्राओं की संख्या 1348 तो पहुंच गई, लेकिन स्टाफ और सुविधाएं 50 फीसद से भी कम थी। इससे अध्यापकों के साथ ही छात्राओं को पढ़ाई के साथ ही अन्य गतिविधियों में काफी परेशानी उठानी पड़ती थी। इसी वर्ष नवंबर में गांव मुरथल में नियुक्त प्राचार्य संतोष राठी को स्टेट अवार्ड मिला और प्रदेश सरकार ने उन्हें अपनी मर्जी से पांच वर्ष के लिए कोई भी स्कूल चयनित करने अवसर दिया। इस पर संतोष राठी ने सोनीपत शहर में मुरथल अड्डा स्थित राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय को चुना। पिछले 12 वर्ष से संतोष राठी स्कूल प्राचार्य का पद संभाल रही हैं। उनकी मेहनत से आज स्कूल में छात्राओं काे न केवल बेहतर पढ़ाई मिल रही हैं, बल्कि वे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपना, अभिभावकों, स्कूल, जिला, प्रदेश और देश का नाम रोशन कर रही हैं।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *