School Reopen Update 2021

School Reopen Update 2021: हरियाणा के सोनीपत समेत एनसीआर के शहरों में आज से खुले स्कूल

दिल्ली एनसीआर ब्रेकिंग न्यूज़ विशेष शिक्षा सोनीपत

9वीं से 12वीं के बाद शुक्रवार से छठी से आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों के लिए राजकीय और निजी विद्यालय खुल गए। वहीं, शुक्रवार बेहद कम संख्या में छात्र-छात्राएं स्कूल पहुंचे। अभिभावकों की लिखित अनुमति से ही विद्यार्थियों को विद्यालयों में प्रवेश दिया गया। वहीं जो विद्यार्थी विद्यालय नहीं आए उनके लिए ऑनलाइन पढ़ाई का विकल्प भी मौजूद है।

गौरतलब है कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर में संक्रमण बढ़ने पर अप्रैल में विद्यालयों को बंद कर दिया गया था। संक्रमण का असर कम होने पर शिक्षा विभाग ने 16 जुलाई से नौंवी से बारहवीं तक के विद्यार्थियों के लिए स्कूल खोले जा चुके हैं। शुक्रवार से छठी से आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों के लिए भी विद्यालय खुल गए। विद्यालयों में विद्यार्थियों को शारीरिक दूरी का पालन कराया गया। विद्यार्थियों का कक्षाओं एक-दूसरे से छह फीट की दूरी पर बैठाया गया। सभी छात्र-छात्राएं मास्क लगाकर स्कूल आए। आने वाले दिनों में भी विद्यार्थियों को पीने का पानी साथ लेकर आना होगा। विद्यार्थियों की हाजिरी, तापमान व फीडबैक की रोजाना अवसर एप पर एंट्री की जाएगी लेकिन विद्यालयों में मिड-डे मील नहीं बनेगा।

खंड शिक्षा अधिकारी ने स्कूल मुखियाओं को दिए निर्देश

वहीं, शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार, गन्नौर में भी शुक्रवार से 50 प्रतिशत बच्चों की उपस्थित के साथ माध्यमिक स्कूल खुले। ऐसे में कोरोना से बचाव को लेकर खंड शिक्षा अधिकारी कर्मबीर सिंह ने बृहस्पतिवार को माध्यमिक विद्यालयों के मुखियाओं के साथ बैठक की थी। बैठक में उन्होंने मुखियाओं को स्कूल खोलने के संबंध में जरूरी दिशा निर्देश दिए थे। उन्होंने कहा था कि स्कूल में छात्रों के साथ-साथ शिक्षकों को कोरोना से बचाव के संबंध में जारी गाइडलाइन का पालन करना होगा। स्कूल में विद्यार्थियों और शिक्षकों को बिना मास्क के स्कूलों में प्रवेश नहीं की अनुमति नहीं होगी। स्कूल में 50 प्रतिशत बच्चों की उपस्थिति अनिवार्य नहीं है। एक कक्षा में 30 से अधिक बच्चों को नहीं बुलाएं। स्कूल के कमरों के हिसाब से बच्चों को स्कूल में बुलाएं। यदि कमरा हवादार न हो तो उन्हें स्कूल के बरामदे व पेड़ के नीचे खुले में भी बैठाकर छात्रों को पढ़ाया जा सकता है। यह सुनिश्चित करें की कोई विद्यार्थी एक दूसरे से हाथ नहीं मिलाए और पानी की बोतल व टिफिन भी एक दूसरे से साझा न करे। विद्यार्थियों का स्कूल में पहुंचने पर तापमान अवश्य जांचें और उनकी हाजिरी व तापमान की जानकारी अवसर एप पर अपलोड करें।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *