सोनीपत में आया हैरान करने वाला मामला, परीक्षा से बचने के लिए छात्र ने बना ली कोरोना वायरस की झूठी रिपोर्ट

दिलचस्प ब्रेकिंग न्यूज़ विशेष शिक्षा सोनीपत

स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षा में पहले दिन ही छात्र द्वारा गड़बड़झाला किए जाने का मामला सामने आया है। दरअसल, एक छात्र ने ऑफलाइन परीक्षा से बचने के लिए कोरोना वायरस की झूठी रिपोर्ट तैयार कर ली। शक होने पर हिंदू कॉलेज के प्राचार्य बीके गर्ग ने संबंधित लैब से इसकी पुष्टि की तो रिपोर्ट फर्जी निकली। अब प्रबंधन ने ऑफलाइन परीक्षा की मांग करने वाले सभी छात्रों की रिपोर्ट की जांच करने का निर्णय लिया है। इसके बाद ही अनुमति को लेकर निर्णय लिया जाएगा।

हिंदू कॉलेज में शुक्रवार को स्नातक व स्नातकोत्तर के फाइनल सेमेस्टर की परीक्षा के दौरान गन्नौर के रहने वाले स्नातक के एक छात्र ने खुद को कोरोना संक्रमित बताकर आनलाइन परीक्षा के लिए अनुमति मांगी। छात्र ने अपनी कोरोना संक्रमित रिपोर्ट भी भेजी। महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. बीके गर्ग ने लाल पैथ लैब से रिपोर्ट की जांच के लिए संपर्क किया तो सामने आया कि यह रिपोर्ट फर्जी है। छात्र ने किसी कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट लेकर उस पर अपना नाम बदलकर महाविद्यालय में दी है।

हिंदू कॉलेज में ऑनलाइन परीक्षा देने के लिए 31 विद्यार्थियों ने प्राचार्य से अनुमति मांगी है। इनमें से 25 विद्यार्थियों ने कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट जमा करवाई है, जबकि छह विद्यार्थियों ने अन्य कारणों का हवाला देते हुए ऑनलाइन परीक्षा की अनुमति मांगी है। इस घटना के बाद कॉलेज प्रबंधन ने निर्णय लिया है कि सभी 25 विद्यार्थियों की कोरोना रिपोर्ट की भी जांच की जाएगी।

डॉ. बीके गर्ग (प्राचार्य, हिंदू कॉलेज, सोनीपत) के मुताबिक, कोरोना के मामलों में कमी आने के बाद इन दिनों परीक्षाएं ऑफलाइन माध्यम से हो रही है। केवल कोरोना संक्रमित को ही आनलाइन परीक्षा की छूट दी गई है। छात्र को चेतावनी देकर आफलाइन परीक्षा की अनुमति दी गई है। आनलाइन परीक्षा देने के लिए जिन छात्रों ने कोरोना संक्रमित की रिपोर्ट दी है, उनकी भी जांच की जाएगी।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *