Haryana: सोनीपत में खूनी होली; गांव जठेड़ी में युवक की चाकू से गोदकर हत्या, परिवार से अलग रहता था युवक

सोनीपत

गांव जठेड़ी निवासी जितेंद्र उर्फ मोनू (38) गांव में ही परिवार से अलग रहता था और वह अविवाहित था। जितेंद्र की मां कमलेश ने बताया कि सोमवार को परिवार होली की खुशियां मना रहा था। देर शाम गांव की महिला ने उन्हें बताया कि उनके बेटे जितेंद्र पर किसी ने हमला कर दिया है।

जिस पर वह मौके पर पहुंची तो बेटा जितेंद्र अपने घर के बाहर गली में लहूलुहान हालत में पड़ा था। उसके गले समेत शरीर के अन्य हिस्सों पर चाकू से वार किए गए थे। उन्होंने मामले से राई थाना पुलिस को अवगत कराया।

सूचना के बाद राई थाना प्रभारी उमेश कुमार अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और शव को कब्जे में ले लिया। पुलिस ने एफएसएल की टीम को बुलाकर सबूत जुटाए है। पुलिस ने शव को नागरिक अस्पताल में भिजवा दिया है। हमलावर गांव का ही युवक बताया जा रहा है। हालांकि पुलिस का कहना है कि परिजनों के बयान के आधार पर कार्रवाई की जाएगी।

युवक का आपराधिक रिकॉर्ड, गांव के सुरेंद्र पर किया था जानलेवा हमला
हमले का शिकार हुए जितेंद्र का आपराधिक रिकॉर्ड रहा है। उस पर 1 मई 2023 को गांव के ही सुरेंद्र ने हत्या की कोशिश का मुकदमा दर्ज कराया था। दिल्ली वन विभाग में माली के पद पर कार्यरत सुरेंद्र ने आरोप लगाया था कि जितेंद्र उर्फ मोनू ने रंजिश के चलते उनके बेटे अंकित को 30 अप्रैल, 2023 की रात को कॉल कर धमकी दी थी। बाद में सुबह वह दूध लेने गए तो कार सवार जितेंद्र ने उन पर दो बार फायर किए थे। मोनू को पुलिस ने पकड़ा था। तब उसने रुपयों के लेनदेन में हमला करने की बात कबूल की थी। उस पर अन्य मुकदमे भी दर्ज थे।

चाय व गुटखा-सिगरेट बेचता था युवक
कमलेश ने बताया कि उनका बेटा जितेंद्र उर्फ मोनू राई औद्योगिक क्षेत्र में चाय की दुकान चलाता था। वह चाय के साथ गुटखा व सिगरेट आदि भी बेचता था। अब बेटे की हत्या कर दी गई है।

त्योहार के दिन गांव जठेड़ी में हत्या से मातम
गांव जठेड़ी में त्योहार के दिन युवक की हत्या किए जाने से मातम पसरा हुआ है। कुछ देर पहले तक सभी जहां रंग-गुलाल उड़ा रहा थे, वहां शाम को हत्या के बाद सन्नाटा पसर गया।

Source

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *